Google Search Console क्या है वेबसाइट गूगल में कैसे इंडेक्स कराए

आप इस पोस्ट को पढ़ रहे है इसका मतलब आपने गूगल Google Search Console के बारे में जरूर कही सुना है या इसके बारे में जानना चाहते है तो इस पोस्ट को पूरा पढ़िए इस पोस्ट में मैं आपको गूगल सर्च कंसोल के बारे में पूरी जानकारी बताने वाला हूँ। Google Search Console Kya Hai.

जब कोई ब्लॉगर या कोई व्यक्ति अपना खुद का ब्लॉग क्रिएट कर लेता है उसके बाद उसको अपने साइट के रिजल्ट को गूगल के सर्च रिजल्ट में शो करने के लिए उसे अपने साइट को गूगल के सर्च कंसोल में सबमिट करना होता है।

मानलीजिए आप अपना ब्लॉग क्रिएट करते और उससे पैसा कामना चाहते है तो किसी भी ब्लॉग से पैसा कमाने के लिए ब्लॉग पर गूगल एडसेंस का अप्रूवल और बहुत सारी ट्रैफिक का होना बहुत ही जरुरी है तभी आप ब्लॉग से पैसे कमा सकते है

परन्तु आप अपने ब्लॉग के लिए एडसेंस से अप्रूवल तब तक नहीं ले सकते है जब तक आपका ब्लॉग गूगल के सर्च इंजन में इंडेक्स नहीं हुआ हो। यदि आप अप्रूवल नहीं भी लेना चाहते है फिर भी अगर आप चाहते है आपका साइट गूगल के सर्च रिजल्ट में शो हो,

यदि कोई आपके साइट के बारे में गूगल में सर्च करे तो उसे आपका साइट सर्च रिजल्ट में शो हो, या अपने साइट के कंटेंट को गूगल में इंडेक्स करना चाहते है तो उसके लिए गूगल की तरफ से एक टूल मिलता है जिसको Webmaster Tool या Google Search Console कहा जाता है

जब तक आपने साइट को इन टूल्स के अंदर वेरीफाई नहीं करते है तब तक आपका वेबसाइट गूगल के सर्च रिजल्ट में नहीं शो करता है और अपने वेबसाइट या ब्लॉग के लिए किसी भी प्रकार के फायदें नहीं ले सकते है।

 

 Webmaster Tool क्या है?

सबसे गूगल सर्च कंसोल को Google WebMaster Tool के नाम से भी जाना जाता था परन्तु पिछले साल एक अपडेट आया जिसमे Webmaster Tool को नए डैशबोर्ड के साथ नाम बदलकर गूगल सर्च कंसोल रख दिया गया है

इसमें कंफ्यूज होने की आवश्यकता नहीं है इसको आप दोनों ही नाम से गूगल पर सर्च कर वेबसाइट पर विजिट कर सकते है तो चलिए अब हम गूगल के इस टूल के बारे में जानते है तो ये गूगल के द्वारा फ्री अवेलेबल टूल है जिसका इस्तेमाल कई प्रकार के है

परन्तु इसका मुख्य इस्तेमाल किसी भी नई साइट को Google के Search इंजन में इंडेक्स कराने के लिए करते है जिसको साइट गूगल सर्च इंजन में रैंक करने लगे। और किसी भी यूजर द्वारा गूगल में सर्च करने पर गूगल आपके साइट का अड्रेस शो करने लगे। और एक फ्री टूल है

इसके आलवा गूगल के इस ऑनलाइन टूल्स में आपको वेबसाइट से सम्बंधित बहुत सारे टूल मिलते है जिससे एक वेबसाइट को गूगल के सर्च इंजन के लिए मैनेज किया जा सके।

यंहा आपको एक बात का मुख्य ध्यान रखना Google Search Console का काम किसी भी वेबसाइट हो या ब्लॉग उसको सर्च रिजल्ट में इंडेक्स करना होता है। फिर भी आपके पास एक ऐसा वेबसाइट है जो की प्राइवेट है और आप चाहते है आपका साइट गूगल के सर्च में न शो हो,

तो उसके लिए अपने साइट को गूगल के सर्च कंसोल में कभी भी सबमिट नहीं करें। वही अगर आप एक ब्लॉगर है और अपने ब्लॉग पर पोस्ट को पब्लिश करते रहते है और ब्लॉग को गूगल में इंडेक्स करना चाहते है जिसको ब्लॉग पर ट्रैफिक आ सके तो Google Search Console में वेबसाइट को सबमिट करना जरुरी है।

 

Google Search Console में साइट कैसे सबमिट करें

यहां तक तो हम लोगों ने Google Search Console Kya है पूरी तरह से समझ गए है अब आगे हम ये समझेंगे कैसे हम अपने ब्लॉग और वेबसाइट को गूगल सर्च कंसोल में सबमिट या वेरीफाई करा सकते है।

यदि आप अपनी साइट को गूगल के सर्च कंसोल में सबमिट करना चाहते है तो उसके लिए आपको सबसे पहले गूगल के सर्च कंसोल में Sign Up करना होगा। गूगल सर्च कंसोल को आप सिर्फ जीमेल आईडी की हेल्प से ही Sign Up कर सकते है तो ये ध्यान रहे आपके पास एक जीमेल अकाउंट होना चाहिए।

 

साइट Property Add करें

जब आप गूगल के सर्च कंसोल में लॉगिन हो जाते है उसके बाद आपको कंसोल के डैशबोर्ड के ऊपर की तरफ कार्नर में Add property का ऑप्शन मिलेगा उसपे क्लिक करना है क्लिक करते ही वहाँ आपको अपने डोमेन को ऐड करने के लिए दो ऑप्शन दिखेगा

पहला “Domain” यदि आप सिर्फ अपने साइट को डोमेन और सब डोमेन के साथ वेरीफाई करना चाहते है तो पहले वाले ऑप्शन पर क्लिक करें। दूसरा ऑप्शन “Url Prefix” इसमें आप अपने साइट पुरे यूआरएल के साथ वेरीफाई करा सकते है उसके बाद Continue पर क्लिक कर दें।

Google News क्या है गूगल न्यूज़ का अप्रूवल कैसे लें
Podcast क्या है Podcast से पैसे कैसे कमाए

साइट को वेरीफाई करें

जब आप अपने यूआरएल को ऐड करने के बाद Continue पर क्लिक करते है उसके बाद आपके सामने एक नया डैशबोर्ड खुलकर सामने आ जाता है Verify Ownership इसमें आपको अपने वेबसाइट के ओनरशिप को वेरीफाई करना होता है।

जिसके लिए आपको 5 मेथड दिए गये होते और ओनरशिप कैसे वेरीफाई करना है उसके बारे में इंस्ट्रकशन भी दिए गए होते है आपको भी आपके आसान लगता है इसको फॉलो कर सकते है।

इसमें सबसे आसान होता है “Html Tag” तो उसके लिए आपको Html टैग को कॉपी करना है यदि आप WordPress इस्तेमाल कर रहे है तो उसके लिए आपको अपने वर्डप्रेस के Appearance सेटिंग में जाकर Theme Editor पर क्लिक करना है

उसके बाद आपके वर्डप्रेस की Theme Editor ओपन हो जायेगा, जिसमे आपको Header.php सेकशन में जाकर <Head> टैग के निचे Html Code Past कर Update File पर क्लिक कर देना है उसके बाद गूगल सर्च कंसोल में वेरीफाई पर कर देना है

यदि आप एक Blogger प्लेटफार्म का इस्तेमाल करते है तो उसमे में भी Html में जाकर <Head> टैग के निचे कोड को पास्ट करना है और सेव करना है तो कुछ इस प्रकार से आप बहुत ही आसानी से Google Search Console में साइट को वेरीफाई कर सकते है।

 

Google Search Console कैसे इस्तेमाल करें

उम्मीद है अभी तक अपने अपने साइट को गूगल के सर्च कंसोल में वेरीफाई कर चुके होंगे। इसके बाद आपको डैशबोर्ड में बहुत सारे ऑप्शन देखने को मिल जायेंगे।

चुकी आप नए है तो इन सभी ऑप्शन के बारे में आपको पूरी जानकारी नहीं होगी। इसलिए हम इसके कुछ मुख्य फीचर के बारे में जानेंगे। क्योकि इसके बारे में जानकारी होना बहुत ही ज्यादा जरुरी है, इसके बिना गूगल कंसोल का सही से इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है।

टेलीग्राम क्या है पूरी जानकारी हिंदी में

Overview जब भी हम गूगल के सर्च कंसोल में लॉगिन होते है सबसे पहले हमें ओवरव्यू का ऑप्शन देखने को मिलता है जिसमे साइट की परफॉरमेंस को देख सकते है की आपके साइट पर कितने क्लिक्स आये है। उसके निचे ही कवरेज का दिखेगा, जिसमे वेबसाइट के किसी भी प्रकार के एरर और वैलिड पेज को देख सकते है

Url Inspection यदि आप कोई पोस्ट को पब्लिश करते है और चाहते है उस पोस्ट को गूगल के सर्च कंसोल में तुरंत इंडेक्स करना, तो उसके लिए आपको उस पोस्ट के यूआरएल को कॉपी करना है और उसको यूआरएल इंस्पेक्शन के अंदर इंस्पेक्ट कर देना है, जिसके बाद पोस्ट गूगल में तुरंत ही इंडेक्स हो जायेगा।

Sitemap ये गूगल सर्च कंसोल का सबसे महत्वपूर्ण फीचर है जब आप अपने साइट को गूगल के सर्च कंसोल में वेरीफाई करते है उसके बाद आपको अपने साइट की Sitemap को सबमिट करना होता है इस साइट मैप में आपकी साइट की सभी इनफार्मेशन रहती है

जब आप अपने साइट की Sitemap को गूगल के सर्च कंसोल में सबमिट करते है तो उससे आपके वेबसाइट पर जितने भी कंटेंट होते है वो एक साथ गूगल में इंडेक्स हो जाते है। तो इसलिए आपको अपने साइट के Sitemap को हमेशा सबमिट करते रहना चाहिए।

Removals यदि आप अपनी साइट के किसी को चाहते है गूगल सर्च रिजल्ट में न आये तो इसको आप इस गूगल सर्च कंसोल के ऑप्शन से रिमूव कर सकते है मानलीजिए आपने कोई पोस्ट या पेज पब्लिश किया है और बाद में आप चाहते है, वो पोस्ट गूगल के सर्च रिजल्ट में शो न हो, या कोई उस यूआरएल को गूगल में सर्च करे तो वो न खुले।

इसके लिए उस यूआरएल को गूगल के सर्च कंसोल में से Removals ऑप्शन की हेल्प से रिमूव कर सकते है और आप चाहे तो कुछ निश्चित समय के पश्चात यूआरएल को दुबारा वापस भी ला सकते है।

 

Google Search Console में आपको बहुत सारे ऑप्शन मिल जाते है जो की सभी के सभी बहुत ही मत्वपूर्ण होते है और इससे साइट के मैनेजमेंट से सम्बंधित सभी कार्यो को बहुत आसानी से कर सकते है जिस भी टूल का इस्तेमाल करना चाहते है बस उसपे क्लिक करना है और लिखे इंस्ट्रक्शन के अनुसार इस्तेमाल करना है। आप अपने साइट को जरुरत पड़ने पर रिमूव भी कर सकते है।

 

आज हम लोगों ने सीखा है

तो कैसे लगा आपको ये पोस्ट पूरा विश्वास है Google Search Console Kya Hai समझ में आ गया होगा। यदि आपको पूरी टॉपिक अच्छे से समझ में आ गया है निचे कमेंट जरुरु करे। यदि आपको लगता है कोई पॉइंट मिसिंग है तो उसे भी निचे कमेंट के माध्यम से पॉइंट कर सकते है।

Mobile Se Blogging कैसे स्टार्ट करें पूरी जानकारी हिंदी में
इस साल की Top 5 Best Game डाउनलोड करें
Tik Tok से पैसे कमाने का नया तरीका और Facts हिंदी में

Leave a Comment

error: Content is protected !!