E-Commerce क्या है पूरी जानकारी हिंदी में

What is E-Commerce in Hindi:अगर कोई कहे  कौन सा वो Business है जिसका सबसे ज्यादा Profit मिल रहा है वो है E-Commerce क्योकि मुझे लगता है इस Business में बहुत ही ज्यादा प्रॉफिट है अगर हम एक Example ले तो दुनिया के सबसे आमिर व्यक्ति Jeff Bezos जो Amazon कंपनी के मालिक आज उनके पास बे हिसाब पैसा है इसलिए तो उनको दुनिया का सबसे आमिर व्यक्ति का दर्जा मिला है, Jeff Bezos Amazon कंपनी के मालिक है Amazon दुनिया की सबसे बड़ी इ- कॉमर्स साइट है जहा से आप Online कोई Product को घर बैठे माँगा सकते है, अगर पहले के ज़माने अगर कोई कहे की हम घर बैठे किसी भी Product को माँगा सकते है

तो लोग उसको पागल समझते लेकिन आज ऐसा Real में हो रहा है और आने वाले समय में और भी बहुत कुछ बदलाव होने वाले है जो Internet के दुनिया में क्रांति ला देगा, Example की लिए हम 5G को ही ले लेते है जब लोगों के पास 2G था तब कोई सोच भी नहीं सकता था की आने वाले समय में 5G टेक्नोलॉजी आने वाला है,

उसी तरह आज का जो हमारा Topic है उसके बारे में जानने वाले है क्योकि E-Commerce एक ऐसा Platform बन गया है जंहा बहुत सारे लोग कमा भी रहे और कमाने के नई नई तरीको को उजागर कर रहे है इसलिए हम जानने वाले E-Commerce क्या है और E-Commerce से घर बैठे हम पैसे कैसे कमा सकते है इसके साथ ही हम ये भी जानेंगे की E-Commerce कितने प्रकार के होते है तो चलिए अब हम E-Commerce के बारे में सरल और साधारण तरीके से समझने की कोशिश करते है

 

E-Commerce क्या है E-Commerce in Hindi

E-Commerce Full-Form Electronic Commerce होता है और इसके नाम ही इसका Definition छुपा है E-Commerce जब हम किसी बिज़नेस को Electronic के माध्यम से करते है तब उसे E-Commerce कहा जाता है यानि जान किसी व्यापर को Electronic जैसे बड़े Network Internet के माध्यम से की जाये तो उसे E-Commerce कहा जाता है तो चलिए अब हम इसको और भी आसान भाषा में समझते है,

अगर हम किसी Business (व्यापर) को Internet जैसे बड़े Network के माध्यम से करते है तो उसे ही हम E-Commerce कहते है इसमें हम अपने Product को Online खरीदते और बेचते है Example के लिए कुछ कंपनियों को ले लेते है भारत में कुछ बड़ी E-Commerce Website जैसे Flipkart, Amazon, Snapdeal, इतयादि जैसे कम्पनिया E-Commerce का बिज़नेस करती है

इसमें आपको अपने Product को Internet पर List करना होता है अगर किसी को आपके Product पसंद आता है तो वो आपके Website पर उस Product को Online Book करता है जिसमे वो अपने Product को खरीदने के लिए Net Banking या Cash on Delivery का उपयोग कर अपने सामान को खरीदता है  E-Commerce Website आपके दिए गए Address पर Product को सिमित समय पर पंहुचा देती है ऐसी Process को E-Commerce Business कहा जाता है

जिसको करने के अलग अलग तरीके होते है जिनको हम आगे Step By Step पूरी डिटेल्स में जानेंगे, अब तक आपको इ-कॉमर्स क्या इसके बारे में अंदाजा लग गया होगा, तो अब आगे जानते है.

 

E-Commerce कितने प्रकार के होते है Types of E-Commerce in Hindi

जैसे की हमने पहले भी कहा कि E-Commerce कई प्रकार के होती सभी का अलग अलग काम होता है इसलिए अब हम इसके अलग अलग प्रकार के बारे में जानेंगे, वैसे तो E-Commerce मुख्य 4 प्रकार के होते है

  1. Business to Business (B2B)
  2. Business-to-Consumer (B2C)
  3. Consumer-to-consumer (C2C)
  4. Consumer-to-Business (C2B)

 

1

Business to Business (B2B)

जब कोई अपना Deal किसी दूसरे कंपनी के साथ कराती है वो B2B Category में आता है यानि की अगर कोई व्यपारी अ पने व्यापर के किसी दूसरे व्यापारी से Business कराती है यानि की कुछ खरीदती या बेचती है तो B2B E-Commerce कहा जाता है, इसमें दो कंपनी अपने बिज़नेस को आपस में साँझा करती है तो चलो इसको एक Example से समझते है, मानलीजिए आपका कोई Motorbike की कंपनी है और आप अपने Motorbike को खुद Manufacture करते हो पर अपने Motorbike के कुछ Parts किसी और कंपनी से मंगाते है ऐसी प्रोसेस B2B E-Commerce की काटोगेरी में आती है

अगर हम कुछ कंपनियों को B2B के Category में रखे तो इसमें आप example के लिए Software कंपनी को ले सकते है जो अपने Software को किसी Hardware कंपनी को बेचती है क्योकि वो अपने Software को किसी व्यक्ति (ग्राहक) से तो Direct बेच नहीं सकती क्योकि उसके लिए हार्डवेयर चाहिए होगा, जैसे Mobile कम्पनियाँ को ले लेते है जो किसी और का OS (Operating System) को अपने Device के लिए खरीदती है जैसे Google Windows के oS.

 

2

Business-to-Consumer (B2C)

इस प्रक्रिया में Consumer अपने Product को सीधे किसी हमारे जैसे लोगो को बेचती है मतलब B2C में कोई भी कंपनी अपने Service को सीधे किसी भी ग्राहक तक बहुचता है तो उसे B2C कहा जाता है तो चलिए इसको एक Example के साथ समझने की कोशिश करते है मानलीजिए आपका कोई कंपनी है और आप अपने कमपनी के Service को किसी भी आम ग्राहक को बेचते है तो B2C कहा जाता है जैसे Netflix अपने Service को बेचती है जैसे कोई Car अपने कार को बेचती है जैसे Amazon Flipkart अपने Product और Service को Online Internet के माध्यम से बेचती है तो इस तरह के Business को Business-to-Consumer कहा जाता है।

 

3

Consumer-to-consumer (C2C)

जब कोई Consumer अपने Product को किसी दूसरे Consumer से बेचता है तो उसे C2C इ-कॉमर्स कहा जाता है यानि अगर कोई उपभोक्ता अपने किसी भी प्रोडक्ट को Online Internet के माध्यम से किसी दूसए उपभोक्ता से बेचता या खरीदता है तो उसे Consumer-to-consumer Business कहा जाता है तो चलिए इसको और भी सरल भाषा में समझने की कोशिश करते है अपने Olx और quicker जैसे वेबसाइट के तो जरूर सुने होने इस वेबसाइट की हेल्प से हम अपने प्रोडक्ट पुराने Product को Online सेल कर सकते है और आप किसी पुराने प्रोडक्ट को ऑनलाइन खरीद भी सकते है ऐसी को C2C कहा जाता है और इसमें eBay जैसी बड़ी कंपनी अभी भी टॉप पर है

 

4

Consumer-to-Business (C2B)

जब कोई कंपनी किसी प्रोडक्ट या सर्विस को किसी Consumer (उपभोक्ता) से खरीदती है तो उसे C2B कहा जाता है यानि की अगर कोई ग्राहक अपने प्रोडक्ट को किसी कंपनी से बेचता है तो वो C2B के Category में आ जाता है. अपने Freelancing के बारे में तो जरूर सुना होगा, अगर नहीं जानते तो इसके ऊपर हमने पहले से ही Article को पब्लिश कर चुके है जिसमे फ्रीलांसिंग के बारे में पुरे डिटेल्स में जानकारी शेयर किये है, Freelancing एक Website है

जहा बहुत सारी कम्पनिया अपने प्रोजेक्ट को कराने के लिए लोगो को Hire करती है मानलीजिए किसी कंपनी को अपने कंपनी के Website को Develop करनी है तो वो Freelancing Website पर Ad को डालती है अगर किसी को Website Develop करना आता है तो वो उस कंपनी से फ्रीलांसिंग वेबसाइट के हेल्प से कांटेक्ट कर प्रोजेक्ट को पूरा करता है इसी को Consumer-to-Business इ-कॉमर्स कहा जाता हैं

E-Commerce Business कैसे शुरू करें

अगर आप भी E-Commerce Business को शुरू करना चाहते है तो बहुत ही आसानी से के साथ कर सकते है अगर आपका कोई स्टोर है जहा आप अपने फिजिकल प्रोडक्ट को बेचते और खरीदते हो तो उसको आप ऑनलाइन स्टोर में बदल सकते है अपने Product को Online ले जाने के लिए आपके पास इ-कॉमर्स वेबसाइट होने चाहिए जहा आप अपने प्रोडक्ट को लिस्ट करा सकते है और बेच सकते है

इसको करना इतना भी आसान नहीं इसके लिए आपको काफी ज्यादा मेहनत करना पड़ेगा, अगर आपको अपने प्रोडक्ट को Online इ-कॉमर्स वेबसाइट को बनाकर बेचना है तो सबसे पहले तो आपको अपने वेबसाइट को सर्च इंजन में Optimize करना होगा और अपने Website को लोगो के बिच Promote करना होगा जिससे लोग आपके वेबसाइट पर विजिट कर सके और और आपके Website से कुछ परचेस कर सके, अगर कोई आपके Website से कुछ परचेस करता है तो आप इसके Product को कूरियर के हेल्प से डलेवर भी कर सकते है

अगर आप नहीं जानते की E-Commerce Website को कैसे Develop किया जाता है तो आप Freelancing जैसे Website से वेबसाइट डेवलपर को Hire कर सकते है जो आपका वेबसाइट डेवेलोप कर देगा अगर आपको WordPress के बारे में Knowledge है तो आप यूट्यूब में विडोज़ को देखकर इ-कॉमर्स वेबसाइट को डेवलप कर सकते है

 

E-Commerce के फायदे क्या है

आज के मॉडर्न युग में इ-कॉमर्स वेबसाइट के बहुत सारे फायदे है जो हर किसी के काम आने वाले है सबसे बड़ी फायदे के बात करे तो सुबिधा इ-कॉमर्स जैसे साइट हमको घर बैठे किसी भी प्रोडक्ट को मांगने के सबिधा प्रोवाइड कराती है और दूसरी सबसे बड़ी सुबिधा की बात करे तो इसमें आपका टाइम बचता है क्योकि आज के समय में टाइम का कितना महत्व है आप सभी को अच्छी तरह से पता है हम कही भी कभी आपने जरुरत के हिसाब से किसी भी प्रोडक्ट और सर्विस को ले सकते है

यहाँ तक की भारत में बहुत सारी Website है जंहा से आप घर के लिए सब्जिया चिकेन और रासन तक आर्डर सकते है और कुछ ही समय में आप आपके एड्रेस पर पहुंच जाता है अगर आपको भूख लगी है तो खाना आर्डर सकते है जो 30 मिनट्स के अंदर आपके घर बहुच जाती है इतने सारे फायदे हमको इ-कॉमर्स वेबसाइट से मिलती है और इसलिए इ-कमरे का स्कोप दिन प्रति दिन पढ़ता है जा रहा है

अगर हम इसके बड़े फायदे की बात करे तो जबसे इ-कॉमर्स भारत में आया है तब से कई सारे रोजगार के रास्ते भी खुल चुके है और बहुत सारे लोगो को रोजगार भी मिला है और इ-कॉमर्स जैसे Website की वजह से एफिलिएट मार्केटिंग का ट्रैंड इतना बढ़ गया है की लोग घर बैठे लाखो कमा रहे है अगर आप एफिलिएट मार्केटिंग के बारे में नहीं जानते है तो इसके लिए मैं आर्टिकल पब्लिश कर चूका हूँ

 

E-Commerce के नुकसान क्या है

जैसे की हर चीज का एक पोस्टिव पॉइंट तो दूसरा नेगेटिव पॉइंट होता है वैसे ही इ-कॉमर्स जैसे वेबसाइट के भी बहुत सारे नुकसान भी है तो चलिए अब हम इसके बारे में पुरे डिटेल्स में जानते है सबसे पहले तो इ-कॉमर्स आने से लोकल बिज़नेस पर काफी ज्यादा असर पड़ा है क्योकि आने वाला समय में इंटरनेट User की बढ़ोतरी होने वाला है और जैसे जैसे बढ़ोतरी होगा वैसे इ-कॉमर्स का बिज़नेस बढ़ता जियेगा क्योकि लोग ऑफलाइन स्टोर से ज्यादा ऑनलाइन स्टोर से अपने प्रोडक्ट को खरीदना पसंद करेंगे जिससे Local मार्किट पर प्रभाव पड़ेगा,

दूसरा सबसे बड़ा नुकसान है साइबर क्राइम जबसे इ-कॉमर्स आया है तो साइबर क्राइम भी बढ़ गया है क्योकि बहुत सारे ऐसे लोग है जो Online ठगी का सीकर हुए है जैसे की अगर हम कोई Online Product को मंगाते है तो हमें अपने Personal Details को देना होता है जैसे Name Address Identity, Credit Card, Debit Card, Number देते है अगर किसी गलत हाथ में हमारा डाटा लीक हो जाये तो बहुत बड़ा नुकसान झेलना पड़ता है इसलिए आप जब कोई भी ऑनलाइन Product को ऑर्डर करे तो ये जरूर जाँच ले क्या वह Website Trusted है या नहीं इसके बाद ही अपने इनफार्मेशन को Fill करें.

 

5 E-Commerce Facts in Hindi

  • दुनिया में 67% ऐसे लोग है जो ऑनलाइन परचेज करने के Mobile Device का इस्तेमाल करते है
  • दुनिया भर में सभी मोबाइल लेनदेन का 33% अकेले अमेरिका में होता है
  • दुनिया भर में 40% इंटरनेट उपयोगकर्ता  डेस्कटॉप, मोबाइल, टैबलेट या अन्य ऑनलाइन उपकरणों के माध्यम से  सामानों को ऑनलाइन खरीदा है।
  • जापान, चीन और अमेरिका के बाद ब्रिटेन दुनिया का चौथा सबसे बड़ा ई-कॉमर्स बाजार है।
  • एशिया और दक्षिण कोरिया के कुछ हिस्से में से दुनिया में ऑनलाइन खरीद की सबसे बड़ी संख्या है

 

इ-कॉमर्स के बारे में

तो आज हमने What is E-Commerce in Hindi में जाना है E-Commerce से हम घर बैठे पैसे कमा सकते है इसके सम्बंधित मैंने पहले ही Article को Publish कर चूका हूँ जिसमे मैंने Amazon Flipkart Affiliate Marketing के बारे में बताया है अगर आपको आज का Article पसंद आया हो तो कमेंट जरुर करे अगर आपको किसी तरह का सवाल है जो पूछना चाहते है तो आप पूछ सकते है अगर आपको किसी Point जो हमने इस Article में नहीं बताया है और उसपे जानकारी लेना चाहते है तो निचे कमेंट कर सकते है धन्यवाद

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply

error: Content is protected !!
MYTECHINFO
Logo