Apple iOS क्या है What is iOS Complete Information

आज के जमाने में अगर महंगे फोन की बात की जाये तो Apple का phone सबसे पहले आता हैं Apple Company का फ़ोन बहुत ही बेहतरीन होते हैं साथ ही बहुत महंगे भी होते हैं सभी Apple का फ़ोन को खरीदना चाहते हैं, लेकिन महंगने होने के कारन खरीद नहीं पाते हैं क्या आप जानते हैं आखिर Apple के फ़ोन इतने महंगे क्यों होते हैं?

 

क्यों यह सभी को अपने तरफ आकर्षित करता हैं बहुत सारे लोगो का मानना है ये महंगे होने के कारन इसमें कुछ खास Feature तो जरूर होगी जो लोगो को पसंद आती हैं. अगर आपको नहीं पता Apple का फ़ोन दूसरे फ़ोन से क्यों अलग हैं तो चलिए जानते हैं 

 

Apple दूसरे फोन से अलग होने के मुख्य वजह है उसके Operating System जिसपर Apple की Devices रन है apple के सभी Devices iOS पर RUN कराती हैं। Apple iOS Windows और Android iOS से बिलकुल अलग हैं. आईओएस वो सॉफ्टवेर प्लेटफॉर्म है जिसके ऊपर आज सभी एपल की डिवाइसेस जैसे आईफोन आईपैड आईपॉड इत्यादि रन करते हैं.

 

iOS क्या है

www.mytechinfo.in

iOS  का फुल फॉर्म होता है (iPhone Operating System) Apple iOS Apple Inc. द्वारा बनाया गया ऑपरेटिंग System हैं जो की Apple की सभी Mobile Device पर रन कराती हैं Android के बाद apple दुनिया की दूसरी सबसे मसहूर Oprating System है iOS एक मल्टी टच इंटरफेस इस्तेमाल करती है

 

जिसमे सिम्पल गैजेट्स की मदद से डिवाइस को ऑपरेट किया जाता है. सिम्पल गैजेट्स का मतलब है जैसे डिवाइस की स्क्रीन के ऊपर अपनी उंगली को स्वाइप करना जिससे अगले पेज पर जाकर काम किया जा सके और स्क्रीन को जूम करने के लिए अपनी उंगलियों से पिंच करना ये सब काम आप आईओएस में फ्री कर सकते हैं.

 

Apple अपने Device के सभी सेंसर को बहुत ही मजबूत बनती है जो आपके Finger Fast Detect करता है और आसानी से काम करता है एप्पल iOS डिवाइसिस के हार्डवेयर के सभी पहलुओं को कंट्रोल करता है साथ ही सॉफ्टवेर के सभी कार्य को भी यही संभालता है.

Apple अपने Users को Complete Experience प्रोवाइड करता है जहा पर Hardware और Software का Combination बहुत ही मजबूत होता हैं जिससे यूजर को बेहतर Experience मिलता हैं Apple के App Store पर 2 Million से भी जयादा App Download करने के लिए मौजूद हैं।

 

 

 iOS इतिहास क्या है

साल 2005 में स्टीव जॉब्स ने iphone बनाने योजना बनाना शुरू उसके लिए वे उसके बाद उन्होंने आइफोन के लिए आईओएस बनाने का निर्णय लिया. उसके बाद साल 2007 जनवरी में आईफोन के साथ नया ऑपरेटिंग सिस्टम रिलीज़ किया गया. आईफोन के रिलीज के समय ऑपरेटिंग सिस्टम का नाम आईफोन ओएस रखा गया था.

 

स्टार्टिंग में  में iPhone के OS में कोई भी को डिवाइस Third Party Application में रन करने की अनुमति नहीं दी गई थी. Steve jobs  का मानना था कि Application Developer सफारी Web Browser के जरिए वैब ऐप्स को डिवेलप कर सकते हैं ताकि  इसके ऊपर iPhone Web निर्भर करे. जो नेटिव एप्स यानी देसी Apps की तरह व्यवहार करेगा.

 

अक्टूबर 2007 में एप्पल ने घोषणा की कि एक मूल सॉफ्टवेर डेवलपमेंट किट डी के विकास में है और उन्होंने इसे Developers  को   फरवरी में देने की योजना बनाई गई. 6 मार्च 2008 में आईफोन एसई के बनकर तैयार हो गया था और इसकी घोषणा की गई

 

10 जुलाई 2008 iOS के App Store को लांच किया गया। जिसमें शुरुआत में सिर्फ 500 Application मौजूद थे लेकिंग साल 2008 से लेकर 2017 तक इसकी संख्या बढ़कर 2.2 मिलियन हो गयी थी। इन ऐप्स को सामूहिक रूप से 130 अरब से अधिक बार डाउनलोड किया गया था

सितंबर 2007 में एप्पल ने आईपोड की घोषणा की. उसके बाद जनवरी 2010 में आइपैड की घोषणा की जिसमें iPhoneऔर iPad  की तुलना में Big Screen थी जिसे वेब ब्राउजिंग Media कंजप्शन और Reading के लिए Design किया गया था.

 

 

Unique iOS Features 

  • आई ओ एस को पूर्ण 64बिट   प्रोसेसर के समर्थन के साथ रिलीज किया गया है.
  • आईओएस में जो प्रोटेक्टिव शेल होते हैं
  • एप्पल हर साल आईओएस का नया वर्जन लाता रहता है.
  • आईओएस के लिए मुख्य हार्डवेयर प्लेटफॉर्म एआरएम आर्किटेक्चर है.
  • जब भी इसमें कुछ नए फीचर्स ऐड किए जाते हैं तो वे तुरंत ही एपल के सभी डिवाइसेस में सॉफ्टवेर अपडेट की इजाजत देता है
  • आईओएस दूसरे ऑपरेटिंग सिस्टम से बिल्कुल अलग है

 

 

आई ओ एस  और Android Operating System  के बीच एक मुख्य अंतर

आईओएस और एंड्रॉयड ओएस के बीच एक मुख्य अंतर है जोकि लोगों को बहुत अधिक पसंद आती है और वो ये है कि एंड्रॉयड के साथ आपको चॉइस मिलती है जिसमें आप दूसरी कंपनी के फोन का इस्तेमाल कर सकते हैं जिनमें एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम को लोड किया जाता है जैसे सैमसंग एलजी एचटीसी शियोमी माइक्रोमैक्स. जबकि आईओएस एक यूनिफॉर्म प्लेटफॉर्म है जो केवल एप्पल के द्वारा बनाए गए डिवाइसेस पर ही रन कर सकता है

We will be happy to hear your thoughts

      Leave a reply

      MYTECHINFO
      Logo